45 वर्ष या उससे अधिक आयु के सभी केंद्रीय सरकार के कर्मचारियों को कोविड का टीका लगवाना चाहिए: केंद्र

HomeDoPT Order

45 वर्ष या उससे अधिक आयु के सभी केंद्रीय सरकार के कर्मचारियों को कोविड का टीका लगवाना चाहिए: केंद्र

45 वर्ष या उससे अधिक आयु के सभी केंद्रीय सरकार के कर्मचारियों को कोविड का टीका लगवाना चाहिए: केंद्र कोरोना वायरस COVID-19 के प्रसार को रोकने के ल

CITU denounces Central Govt decision to freeze DA for employees and pensioners
COVID-19 Outbreak: Extension of timelines for recording of APAR of Group A B & C for 2019-2020: DoPT OM dated 30 March 2020
कोरोना महामारी: केंद्र सरकार के कर्मियों को तीन महीनों तक कुछ और भत्तों से वंचित रहना पड़ सकता है

45 वर्ष या उससे अधिक आयु के सभी केंद्रीय सरकार के कर्मचारियों को कोविड का टीका लगवाना चाहिए: केंद्र

all-central-government-employees-aged-45-years-and-above-must-get-vaccinated

कोरोना वायरस COVID-19 के प्रसार को रोकने के लिए, केंद्र सरकार ने मंगलवार को सभी पात्र कर्मचारियों से टीका लगाने निर्देश दिया है। 1 अप्रैल 2021 से 45 वर्ष से अधिक आयु के व्‍यक्तियों को COVID-19 का टीका लेने की अनुमति दी गई है।

केंद्रीय सरकार के मंत्रालयों और विभागों को आदेश जारी कर, 45 वर्ष या उससे अधिक आयु के सभी केंद्रीय सरकारी कर्मचारियों को सलाह दी गयी है कि वे स्वयं टीकाकरण करवाएं ताकि COVID-19 के प्रसार को प्रभावी रूप से कम किया जा सके।

View: Guidelines regarding administration of COVID vaccine to the CGHS beneficiaries OM dated 26.03.2021

कार्मिक मंत्रालय द्वारा जारी एक आदेश में कर्मचारियों को टीका लगाने के बाद भी कोविड उपयुक्त व्यवहार जैसे कि बार-बार हाथ धोना एवं सैनिटाईजेशन, मास्क पहनना या चेहरा ढंकने और सामाजिक दूरी का पालन करने के लिए जारी रखने की सलाह दी गई है।

आदेश में कहा गया है कि सरकार बहुत बारीकी से स्थिति की निगरानी कर रही है, और COVlD-19 के प्रसार को रोकने के लिए टीकाकरण के लिए समूहों को प्राथमिकता देने के लिए अपनाई गई रणनीति के आधार पर, वर्तमान में, 45 वर्ष और उससे अधिक आयु के सभी व्यक्ति टीकाकरण में भाग ले सकते हैं।

View: COVID-19 Vaccination Precautions Contraindications and scheduled: Difference of COVID-19 Vaccines

भारत ने दो COVID-19 वैक्सीन – पुणे स्थित सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया के कोविशिल्ड और हैदराबाद स्थित भारत बायोटेक इंटरनेशनल लिमिटेड के कोवाक्सिन को आपातकालीन उपयोग के लिए प्राधिकृत किया था जो सरकार के टीकाकरण अभियान में उपयोग किए जा रहे हैं। केंद्र सरकार ने पहले कहा था कि COVID-19 वैक्सीन की दो खुराक 28 दिनों के अंतराल पर दी जाएगी। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने सोमवार को एक बयान में कहा, कोविशिल्ड की दूसरी खुराक आठ सप्ताह तक दी जा सकती है। हालांकि, बढ़ा हुआ अंतराल कोवैक्सिन पर लागू नहीं होता है।

भारत सरकार, कार्मिक एवं प्रशिक्षण मंत्रालय द्वारा जारी आदेश देखने के लिए क्लिक करें।

COMMENTS

WORDPRESS: 0