Booking of Holiday Homes, Allotment for over One Lakh Government Residential Accommodations Integrated on E-Sampada

HomeNews

Booking of Holiday Homes, Allotment for over One Lakh Government Residential Accommodations Integrated on E-Sampada

Booking of Holiday Homes, Allotment for over One Lakh Government Residential Accommodations Integrated on E-Sampada Booking of Holiday Homes, Socia

Housing for CRPF: New Accommodations for Central Reserve Police Forces, State/UT-wise details
General Pool Accommodation to State/UT Employees in Delhi – Clarification
Extension of grant of eligibility for allotment of Govt. accommodation to the Debt Recovery Tribunals (DRT’s) and Debt Recovery Appellate Tribunals (DRAT’s)

Booking of Holiday Homes, Allotment for over One Lakh Government Residential Accommodations Integrated on E-Sampada

Booking of Holiday Homes, Social Function Venues Like 5 Ashoka Road, Allotment for over One Lakh Government Residential Accommodations Integrated on New Platform

E-Sampada- New Web Portal & Mobile App Launched on Good Governance Day– To Simplify Processes & Bring Uniformity In Systems Across India

Four Websites & Two Mobile Apps of Directorate of Estates Integrated into one–all services on same Platform throughout Country

E-Governance to Boost Transparency & Accountability in Providing Various Estate Services

booking-of-holiday-homes-allotment-for-over-one-lakh-government-residential-accommodations-integrated-on-e-sampada

Ministry of Housing & Urban Affairs
Press Information Bureau
Government of India

Dated: 25 DEC 2020

Good governance day is celebrated annually on 25 December, the anniversary of the birth of former Prime Minister Atal Bihari Vajpayee.

In line with the objectives of boosting transparency and accountability while ensuring ease of living for the citizens, the Directorate of Estates, Ministry of Housing and Urban Affairs today dedicated to the nation, a new Web Portal and Mobile App, e-Sampada. The new application provides a single window for all these services including allotment for over one lakh government residential accommodations, office space allotment to government organisations in 45 office complexes in 28 cities, booking of 1,176 holiday home rooms and venues like 5, Ashoka Road for social functions etc.

In its endeavour to provide ‘One Nation, One System’, the erstwhile four websites (gpra.nic.in, eawas.nic.in, estates.gov.in, holidayhomes.nic.in), and two Mobile Apps (m-Awas & m-Ashoka5) of the Directorate of Estates have been integrated into one, which paves the way for all services on the same platform throughout the country. The website and mobile app was launched by Shri Hardeep S Puri, Minister of State(I/C) for Housing & Urban Affairs in the presence of Shri Durga Shanker Mishra, Secretary, MoHUA and other senior officials here today.

Addressing the media in a program organised on virtual platform, Shri Hardeep S Puri said that this is a significant step towards promotion of e-governance to boost transparency and accountability in providing various Estate Services like allotment, retention, regularisation, no dues certificate etc.

Online Allotment of Railway Officers Rest House, Holiday Homes, Community Centres/Halls: Railway Board Order Dt. September 10, 2020

Holiday Homes for Government Employees in various cities; Construction of 19 new holiday homes/touring officers hostels/guest houses

He further said that E-Sampada is developed to simplify processes and bring uniformity in the system across India. This will promote ease of living for Government of India officers / Departments as all services can be availed online on a single window with a live tracking of applications. Real time information on utilisation of assets and delivery of service will facilitate optimum utilisation of resources. The automated processes will minimize human intervention and will lead to greater transparency.

Shri Durga Shanker Mishra, Secretary said that E-Sampada equips users with very specialised features like personalised dashboard, service usage archive and real time status on licence fees/dues. All payments / dues are to be made cashless through digital modes. It is user friendly and is device responsive. Users will have visual experience of services and will be able to give feedback online.

The portal provides online facility to users across India to lodge complaints, submit documents and appear for virtual hearing. It will reduce administrative cost and will save time and resources by reducing visits to Directorate of Estate. e-Sampada Mobile App and Chatbot facility has been provided for better user experience. Service level benchmarks and activity log for officials are incorporated to ensure accountability.

E-Sampada to benefit all services, across India : Online, Paperless, Cashless

• 1,09,474 Government Residential Accommodation at 40 locations
• 1.25 crore sq.ft Office Space Allotment in 45 office complexes at 28 locations
• 1,176 Holiday Home Rooms/Suits at 62 locations
• Booking of Vigyan Bhawan
• Booking of venues for social functions

The new Web Portal and Mobile App have been developed by NIC. The Mobile App will be available for Android as well as iOS platforms. The Web Portal can be accessed at www.esampada.mohua.gov.in and Mobile App can be downloaded from Android Play Store / Apple App Store.


हॉलीडे होम्‍स, 5 अशोक रोड जैसे सामाजिक समारोह स्‍थलों की बुकिंग, एक लाख से अधिक सरकारी रिहायशी आवासों के आवंटन को एक प्‍लेटफॉर्म से जोड़ा गया

प्रक्रियाओं को सरल बनाने और समूचे भारत की प्रणालियों में एकरूपता लाने के लिए सुशासन दिवसके अवसर पर नया वेब पोर्टल और मोबाइल एप–ई-सम्‍पदा लॉन्‍च किया गया

सम्‍पदा निदेशालय की चार वेबसाइट्स और दो मोबाइल एप्‍स एक प्‍लेटफॉर्म पर एकीकृत किए गए- देश भर में सभी सेवाएं एक ही प्‍लेटफॉर्म पर

विभिन्‍न सम्‍पदा सेवाएं उपलब्‍ध कराने में पारदर्शिता और जवाबदेही को बढ़ावा देने के लिए ई-गवर्नेंस

पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की जयंती के अवसर पर हर साल 25 दिसंबर को सुशासन दिवस मनाया जाता है।

नागरिकों के जीवन की सुगमता सुनिश्चित करते हुए पारदर्शिता और जवाबदेही को बढ़ावा देने के उद्देश्‍य के अनुरूप सम्‍पदा निदेशालय, आवास एवं शहरी कार्य मंत्रालय ने आज एक नया वेब पोर्टल और मोबाइल एप –ई-सम्‍पदा राष्‍ट्र को समर्पित किया। यह नया एप्‍लीकेशन एक लाख से ज्‍यादा सरकारी रिहायशी आवासों के आवंटन, 28 शहरों में स्थित 45 कार्यालय परिसरों में सरकारी संगठनों के लिए कार्यालय के स्‍थान का आवंटन, 1,176 हॉलीडे होम रूम्‍स तथा सामाजिक समारोहों के लिए 5 अशोक रोड जैसे स्‍थलों की बुकिंग आदि जैसी सभी सेवाओं के लिए सिंगल विंडो उपलब्‍ध कराता है।

‘एक देश, एक प्रणाली’ उपलब्‍ध कराने के प्रयास के तहत सम्‍पदा निदेशालय की पहले की चार वेबसाइट्स (gpra.nic.in, eawas.nic.in, estates.gov.in, holidayhomes.nic.in) और दो मोबाइल एप्‍स (m-Awas& m-Ashoka5) को एक में एकीकृत कर दिया गया है, जिससे देश भर में सभी सेवाओं को एक ही मंच पर उपलब्‍ध कराने का मार्ग प्रशस्‍त होता है। आवास एवं शहरी कार्य राज्‍य मंत्री (स्‍वतंत्र प्रभार) श्री हरदीप सिंह पुरी ने आज यहां आवास एवं शहरी कार्य सचिव श्री दुर्गा शंकर मिश्रा और अन्‍य वरिष्‍ठ अधिकारियों की मौजूदगी की यह वेबसाइट और मोबाइल एप लॉन्‍च किया।

वर्चुअल माध्यम से आयोजित एक कार्यक्रम में मीडिया को संबोधित करते हुए श्री हरदीप सिंह पुरी ने कहा कि, यह विभिन्न भूसंपत्ति सेवाओं जैसे आवंटन, अवधारण, नियमितीकरण और अदेयता प्रमाणपत्र आदि प्रदान करने में पारदर्शिता तथा जवाबदेही सुनिश्चित करने के लिए ई-गवर्नेंस को बढ़ावा देने की दिशा में एक महत्वपूर्ण कदम है।

श्री पुरी ने कहा कि, ई-सम्पदा का विकास विभिन्न प्रक्रियाओं को सरल बनाने और पूरे भारत में इस प्रणाली में एकरूपता लाने के लिए किया गया है। यह सुविधा भारत सरकार के अधिकारियों / विभागों के लिए जीवन को आसान बनाने में मदद करेगी क्योंकि इसके तहत सभी सेवाओं का एकल खिड़की पर ऑनलाइन लाभ उठाया जा सकता है, साथ ही आवेदनों की लाइव ट्रैकिंग भी की जा सकती है। परिसंपत्तियों के उपयोग तथा सेवाओं के वितरण पर वास्तविक समय की जानकारी ही संसाधनों के सर्वोत्कृष्ट उपयोग की सुविधा प्रदान करेगी। स्वचालित प्रक्रियाओं से मानवीय हस्तक्षेप में कमी आएगी और इससे पारदर्शिता में वृद्धि भी होगी।

मंत्रालय में सचिव श्री दुर्गा शंकर मिश्रा ने कहा कि, ई-सम्पदा के माध्यम से उपयोगकर्ताओं को विशिष्ट डैशबोर्ड, सेवा उपयोग संग्रह और लाइसेंस शुल्क एवं बकाया राशि की वास्तविक सामयिक स्थिति की जानकारी जैसी विशेष सुविधाएं प्राप्त होती हैं। सभी प्रकार के भुगतान तथा बकाया राशि को डिजिटल मोड के माध्यम से नकदीरहित जमा किया जा सकता है। ई-सम्पदा यूजर फ्रेंडली है और डिवाइस उपयोगकर्ता के काफी अनुकूल है। इसका प्रयोग करने वालों को सेवाओं का दृश्य अनुभव होगा और वे ऑनलाइन प्रतिक्रिया दे पाएंगे।

यह पोर्टल पूरे भारत में उपयोगकर्ताओं को शिकायतों को दर्ज करने, दस्तावेज प्रस्तुत करने और वर्चुअल सुनवाई में उपस्थित होने के लिए ऑनलाइन सुविधा प्रदान करता है। यह प्रशासनिक लागत में कमी लाएगा तथा डायरेक्टरेट ऑफ़ एस्टेट के चक्कर लगाने में व्यय होने वाले समय को कम करेगा और संसाधनों को बचाएगा। उपयोगकर्ता के बेहतर अनुभव के लिए ई-सम्पदा मोबाइल ऐप और चैटबोट सुविधा प्रदान की गई है। अधिकारियों के लिए सेवा स्तर बेंचमार्क और गतिविधि लॉग भी जवाबदेही सुनिश्चित करने के लिए शामिल किए गए हैं।

पूरे भारत में सभी सेवाओं का लाभ उठाने के लिए ई-सम्पदा: ऑनलाइन, पेपरलेस, कैशलेस है।

• 40 स्थानों पर 1,09,474 सरकारी आवासीय आवास

• 28 स्थानों पर 45 कार्यालय परिसरों में 1.25 करोड़ वर्ग फुट ऑफिस स्पेस अलॉटमेंट

• 62 स्थानों पर 1,176 हॉलिडे होम रूम / सुइट

• विज्ञान भवन की बुकिंग

• सामाजिक कार्यों के लिए प्रतिष्ठानों की बुकिंग

नया वेब पोर्टल और मोबाइल ऐप एनआईसी द्वारा विकसित किया गया है। मोबाइल ऐप एंड्रॉइड के साथ-साथ आईओएस प्लेटफॉर्म के लिए भी उपलब्ध होगा। वेब पोर्टल www.esampada.mohua.gov.in से इस सुविधा तक पंहुचा जा सकता है और मोबाइल ऐप को एंड्रॉइड प्ले स्टोर / ऐप्पल ऐप स्टोर से डाउनलोड किया जा सकता है।

*****

एमजी/एएम/एनके/आरके/डीए

Source: PIB

COMMENTS

WORDPRESS: 0