UPSC Gears up to Conduct Personaltiy Tests (Interviews) for the Civil Services Examination 2019 in the Backdrop of COVID-19 Pandemic

HomeNews

UPSC Gears up to Conduct Personaltiy Tests (Interviews) for the Civil Services Examination 2019 in the Backdrop of COVID-19 Pandemic

UPSC Gears up to Conduct Personaltiy Tests (Interviews) for the Civil Services Examination 2019 in the Backdrop of COVID-19 Pandemic Press Informat

UPSC Examination 2021 – Rules for a LDCE – Assistant Commandants (Executive) in CISF
Amendment of Recruitment Rules/Service Rules: DoPT’s instructions
Notification: Exemption from Consultation with UPSC for All Gp “B” Posts less than GP 4800

UPSC Gears up to Conduct Personaltiy Tests (Interviews) for the Civil Services Examination 2019 in the Backdrop of COVID-19 Pandemic

upsc-gears-up-to-conduct-personaltiy-tests-interviews-for-the-civil-services-examination-2019-in-the-backdrop-of-covid-19-pandemic

Press Information Bureau
Government of India
UPSC

Dated : 20 JUL 2020

The Union Public Service Commission was in the midst of conducting the Personality Tests (PTs)/Interviews for 2,304 candidates for the Civil Services Examination, 2019 (CSE-2019) when the Government of India decided to impose a lockdown to contain the spread of COVID-19. The Commission also reviewed the position and decided to defer the remaining PT Boards for 623 candidates of the CSE-2019 from 23.03.2020 onwards.

With gradual lifting of the lockdown, the Commission has decided to hold the PTs for the remaining candidates from 20th to 30th of July, 2020 and all the candidates have been suitably informed in advance. In order to address the safety and health concerns of the candidates, expert advisers and staff of the Commission, suitable arrangements have been put in place.

As train services are not fully functional, the Commission, as a one-time measure, has decided to reimburse the lowest ‘to and fro airfare’ to the candidates coming for the PTs. State Governments have been requested to allow the candidates holding e-Summon Letters for PTs to move in/out of the restricted zones for the purpose of attending the same. The Commission is also helping the candidates with their lodging and transport requirements.

On reaching the Commission, all candidates will be provided a ‘Sealed Kit’ consisting of a face mask, face shield, a bottle of sanitizer and hand gloves. Since the Interview Boards generally comprise of senior advisers, the Commission has taken all precautionary and safety measures for contactless PTs in order to shield the interviewers and the interviewees appropriately. The Commission’s staff involved in conduct of the PTs will also be equipped withsuitable protective gear. Arrangements have been made for regular sanitization of all the rooms, halls, furniture and equipment. Seating arrangement for the candidates at all venues will ensure safe physical distancing. Protocol/guidelines to be followed by the candidates for appearing in the interview have been communicated to them.

View: UPSC परीक्षा सुधार काडर (समूह ‘क’ पद) भर्ती नियम, 2020: प्राधिकृत संख्या, वेतन मैट्रिक्स में स्तर

The Commission is committed to ensure the highest standards of health safety even as it fulfills its Constitutional mandate for selecting the most suitable candidates through its examinations.

कोविड-19 महामारी की पृष्ठभूमि में यूपीएससी सिविल सेवा परीक्षा 2019 के लिए व्यक्तित्व परीक्षण (साक्षात्कार) आयोजित करने की तैयारी में जुटा

संघ लोक सेवा आयोग द्वारा सिविल सेवा परीक्षा 2019 (सीएसई-2019) के लिए 2,304 उम्मीदवारों के लिए व्यक्तित्व परीक्षण (पीटी)/साक्षात्कार का आयोजन कर रहा था, चूंकि भारत सरकार ने कोविड-19 के फैलाव को रोकने के लिए लॉकडाउन लगाने का निर्णय लिया। आयोग द्वारा स्थिति की समीक्षा की गई और सीएसई-2019 के लिए शेष बचे हुए 623 उम्मीदवारों के लिए गठित पीटी बोर्डों को 23 मार्च 2020 के बाद से स्थगित करने का फैसला किया गया।

धीरे-धीरे लॉकडाउन हटाने की प्रक्रिया शुरू होने के साथ ही, आयोग ने 20 से 30 जुलाई, 2020 तक शेष बचे हुए अभ्यर्थियों के लिए पीटी का आयोजन करने का निर्णय लिया है और सभी अभ्यर्थियों को इस संदर्भ में पहले से ही सही प्रकार से सूचित किया जा चुका है। उम्मीदवारों, विशेषज्ञ सलाहकारों और कर्मचारियों की सुरक्षा और स्वास्थ्य संबंधी चिंताओं को दूर करने के लिए, आयोग द्वारा उपयुक्त व्यवस्थाएं अपनाई गई है।

चूंकि रेल सेवाएं पूरी तरह से चालू नहीं हुई हैं, इसलिए आयोग ने एक बार के समाधान के रूप में पीटी में शामिल होने वाले उम्मीदवारों को सबसे कम ‘आने-जाने के हवाई किराए’ के पुनर्भुगतान का निर्णय लिया है। राज्य सरकारों से अनुरोध किया गया है कि पीटी में शामिल होने के लिए ई-बुलावा पत्र रखने वाले उम्मीदवारों को इसमें हिस्सा लेने के लिए प्रतिबंधित क्षेत्रों से बाहर आने/-जाने की अनुमति प्रदान करें। आयोग द्वारा उम्मीदवारों के ठहरने और परिवहन आवश्यकताओं की पूर्ति में सहायता भी प्रदान की जा रही है।

आयोग सभी उम्मीदवारों को पहुंचने पर एक ‘सील की हुई किट’ उपलब्ध करवायेगा जिसमें फेस मास्क, फेस शील्ड, सैनिटाइजर की बोतल और हाथ के दस्ताने शामिल होंगे। चूंकि साक्षात्कार बोर्ड में आम तौर पर वरिष्ठ सलाहकार शामिल होते हैं, इसलिए आयोग द्वारा संपर्क-रहित पीटी का आयोजन करने के लिए सभी प्रकार के एहतियाती और सुरक्षात्मक उपाय किए गए हैं, जिससे साक्षात्कार लेने वाले और साक्षात्कार देने वाले का बचाव उचित रूप से किया जा सके। पीटी के संचालन में शामिल होने वाले आयोग के कर्मचारियों को भी उपयुक्त सुरक्षात्मक उपकरणों से लैस किया जाएगा। सभी कमरों, हॉल, फर्नीचरों और उपकरणों को नियमित रूप से सैनिटाइज करने की व्यवस्था की गई है। सभी जगहों पर उम्मीदवारों के बैठने की व्यवस्था के रूप में, सुरक्षित शारीरिक दूरी को सुनिश्चित किया जाएगा। साक्षात्कार में शामिल होने वाले उम्मीदवारों को अपनाए जाने वाले प्रोटोकॉल/ दिशा-निर्देशों के संदर्भ में सूचना प्रदान कर दी गई है।

Rules of Junior Time Scale (JTS) of the Indian Statistical Service Exam 2020 by UPSC: Notification

आयोग स्वास्थ्य सुरक्षा के उच्चतम मानकों को सुनिश्चित करने के लिए प्रतिबद्ध है, क्योंकि वह अपनी परीक्षाओं के माध्यम से सबसे उपयुक्त उम्मीदवारों का चयन करके अपने संवैधानिक आदेश का निर्वहन करता है।

Source:PIB News

COMMENTS

WORDPRESS: 0